Online Application, Benefitsव Eligibility सूची

  • Post author:

Mukhyamantri Bal Seva Yojana Apply | Mukhyamantri बाल सेवा Yojana Online Application | Mukhyamantri Bal Seva Yojana Application Form | Mukhyamantri बाल सेवा Yojana Eligibility सूची

Corona virus संक्रमण के कारण प्रतिदिन हमारे देश को नई चुनौतियों का सामना करना पड़ा है। देश में कई सारे ऐसे बच्चे हैं जिनके माता पिता में से कोई एक या फिर दोनों माता-पिता कि Corona virus संक्रमण के कारण मृत्यु हो गई है। Uttar Pradesh में भी लगभग 197 ऐसे बच्चों की पहचान की गई है जिनके माता पिता की मृत्यु हो गई है एवं 1799 ऐसे बच्चों की पहचान की गई है जिनके माता-पिता में से किसी एक की मृत्यु हो गई है। ऐसे सभी बच्चों के लिए Uttar Pradesh Governmentद्वारा Mukhyamantri बाल सेवा Yojana आरंभ की गई है। इस Yojana के माध्यम से इन बच्चों को आर्थिक सहायता के साथ-साथ कई अन्य Facilityएं भी प्रदान की जाएंगी जिससे वह अपना जीवन यापन कर सकें। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से इस Yojana से संबंधित सभी महत्वपूर्ण Information प्रदान करने जा रहे हैं ।

Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2021

Uttar Pradesh Governmentद्वारा Mukhyamantri बाल सेवा Yojana को आरंभ किया गया है। इस Yojana के माध्यम से उन सभी बच्चों की मदद की जाएगी जिनके माता पिता की मृत्यु Corona virus संक्रमण के कारण हो गई है। इस Yojana को 30 मई 2021 को Uttar Pradesh के Mukhyamantri योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा आरंभ किया गया है। इस Yojana के माध्यम से ना केवल बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी बल्कि उनकी पढ़ाई से लेकर उनके विवाह तक का खर्च Governmentद्वारा वहन किया जाएगा। Mukhyamantri Bal Seva Yojana के अंतर्गत बच्चों की पालन पोषण के लिए बच्चे को या फिर उसके अभिभावक को ₹4000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

इसके अलावा इस Yojana के माध्यम से लड़कियों की शादी के लिए आर्थिक सहायता भी प्रदान किए जाएंगे। यदि बच्चे की आयु 10 वर्ष से कम है और उनका कोई अभिभावक नहीं है उनको राजकीय बाल गृह में आवासीय Facility प्रदान की जाएगी। लड़कियों को भी अलग से आवासीय Facility प्रदान की जाएगी एवं वह सभी बच्चे जो स्कूल और कॉलेज में पढ़ रहे हैं उन्हें लैपटॉप/टेबलेट भी इस Yojana के अंतर्गत प्रदान किए जाएंगे।

Mukhyamantri बाल सेवा Yojana

विश्वकर्मा श्रम सम्मान Yojana

Mukhyamantri बाल सेवा Yojana का शुभारंभ

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं Uttar Pradesh Governmentद्वारा Mukhyamantri बाल सेवा Yojana Coronavirus संक्रमण के कारण अनाथ हुए बच्चों के लिए आरंभ की गई है। Uttar Pradesh Governmentद्वारा 22 जुलाई 2021 को इस Yojana का शुभारंभ किया गया है। इस मौके पर प्रदेश के चिन्हित 4050 बच्चों के अभिभावकों के बैंक खाते में प्रतिमाह ₹4000 के हिसाब से 3 माह के 12-12 हजार रुपए वितरित किए गए हैं। इस Yojana के अंतर्गत अब कोरोना के अलावा दूसरी बीमारियों के कारण अनाथ हुए बच्चों को भी शामिल करने का निर्णय लिया गया है। इस मौके पर Stateपाल एवं Mukhyamantri द्वारा 10 लाभार्थी बच्चों को स्वीकृति पत्र, स्कूल बैग, चाकलेट, आदि प्रदान किया गया है। इनमें से दो बच्चों को टैब भी प्रदान किया गया है। इस मौके पर Mukhyamantri जी द्वारा यह घोषणा की गई है कि Coronavirus के कारण निरक्षित हुई महिलाओं के लिए भी एक नई Yojana शुरू की जाएगी।

राजपाल द्वारा की गई Yojana की सराहना

सभी अनाथ हुए बच्चों के लालन पालन से लेकर शिक्षा एवं स्वास्थ्य तक की जिम्मेदारी Uttar Pradesh Governmentद्वारा वाहन की जाएगी। इसके अलावा वह सभी बच्चे जिनका पालन पोषण स्वजन नहीं कर सकते उनको बाल गृह में रखा जाएगा। बच्चों को शिक्षा अटल आवासीय विद्यालयों के माध्यम से प्रदान की जाएगी एवं बालिकाओं को कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों में शिक्षा प्रदान की जाएगी। इसके अलावा निरीक्षक बच्चों के लिए पीएमकेएस के दिशा निर्देश भी जल्द आएंगे। जिसका Benefitsभी बच्चों को प्रदान किया जाएगा। Governmentद्वारा बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए पूरा इंतजाम किया जाएगा।

इसके अलावा कार्यक्रम की मुख्य अतिथि Stateपाल आनंदीबेन पटेल द्वारा इस Yojana की सराहना की गई है। उनके द्वारा यह बताया गया है कि अनाथ हुए बच्चों के लिए ऐसी Yojana शुरू करने वाला UP पहला State है। आनंदीबेन पटेल द्वारा अधिकारियों से भी एक अनाथ बच्चे को गोद लेने की अपील की गई है। राजपाल जी के द्वारा अनाथ हुए बच्चों के सपनों को पूरा करने के लिए व्यापक जनसभागीता का भी आवाहन किया गया है। आनंदीबेन द्वारा सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों को भी आदेश दिए गए हैं कि यदि विश्वविद्यालय में अनाथ बच्चे हैं तो उनकी मदद की जाए।

Key Highlights Of Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2021

Yojana का नाम Mukhyamantri बाल सेवा Yojana
किसने आरंभ की Uttar Pradesh सरकार
लाभार्थी Corona virus संक्रमण के कारण अनाथ हुए Uttar Pradesh के बच्चे।
उद्देश्य Corona virus संक्रमण के कारण अनाथ हुए बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान करना।
Official Website जल्द लॉन्च की जाएगी
साल 2021
आर्थिक सहायता ₹4000 प्रतिमाह
Application का Type Online/ऑफलाइन

शादी के लिए आर्थिक सहायता एवं बच्चों को टेबलेट का वितरण

इस Yojana के अंतर्गत Governmentद्वारा आर्थिक सहायता से लेकर कई अन्य Facilityएं भी प्रदान की जा रही है। जिससे कि अनाथ हुए बच्चे अपना जीवन यापन कर सकें। इस Yojana के अंतर्गत सभी पात्र बालिकाओं की शादी के लिए Uttar Pradesh Governmentद्वारा ₹101000 की धनराशि प्रदान की जाएगी। इसके अलावा सभी बच्चे जो स्कूल एवं कॉलेज में पढ़ते हैं या फिर व्यावसायिक शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं उनको टैबलेट/लैपटॉप Mukhyamantri बाल सेवा Yojana के माध्यम से प्रदान किया जाएगा। जिससे कि उनकी पढ़ाई में कोई रुकावट ना आए। यदि आप भी इस Yojana का Benefitsप्राप्त करना चाहते हैं तो आपको अपनी Eligibility सुनिश्चित करके जल्द से जल्द इस Yojana के अंतर्गत Application करना होगा। इस Yojana का Benefitsउन बच्चों को भी Benefitsप्रदान किया जाएगा जिन्होंने अपने लीगल गार्डियन या फिर आय अर्जित करने वाले अभिभावक को कोरोना संक्रमण के कारण खो दिया हो।

Mukhyamantri बाल श्रमिक विद्या Yojana

राष्ट्रीय पारिवारिक BenefitsYojana

पोस्ट कोविड के कारण हुई मृत्यु पर भी प्रदान किया जाएगा Yojana का लाभ

Mukhyamantri बाल सेवा Yojana को उन बच्चों के लिए आरंभ किया गया है जिनके माता पिता की मृत्यु Corona virus संक्रमण के कारण हो गई है। इस Yojana को अब कैबिनेट से मंजूरी मिल चुकी है। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा इस Yojana के कार्यान्वयन की नीति तैयार की जा रही है। इस Yojana के अंतर्गत सभी चिन्हित बच्चों की Listिंग एवं Eligibility की शर्तें तैयार कर दी गई हैं। Mukhyamantri बाल सेवा Yojana के माध्यम से सभी अनाथ हुए बच्चों के भरण पोषण, शिक्षा, चिकित्सा आदि का पूरा ध्यान रखा जाएगा।

  • Corona virus संक्रमण से मृत्यु का प्रमाण एंटीजन टेस्ट, आरटीपीसीआर की पॉजिटिव टेस्ट Report, ब्लड Report, सीटी स्कैन में कोविड-19 के इंफेक्शन को माना गया है। लेकिन अगर Corona virus संक्रमित हुए मरीज की नेगेटिव Report आने के बाद भी पोस्ट कोविड के कारण मृत्यु हो जाती है तो इस स्थिति में भी उनके बच्चों को इस Yojana का Benefitsप्रदान किया जाएगा।
  • इस बात की Information महिला कल्याण निदेशक मनोज कुमार राय द्वारा दी गई। इस Yojana के अंतर्गत पात्र बच्चों के लीगल गार्डियन को जनपद स्तरीय टास्क फोर्स के माध्यम से चिन्हित किया जाएगा। जिला बाल संरक्षण इकाई व बाल कल्याण समिति द्वारा इन बच्चों के विकास पर भी नजर रखी जाएगी।

₹4000 की आर्थिक सहायता एवं आवासीय Facility

Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2021 के माध्यम सभी पात्र लाभार्थियों को ₹4000 की आर्थिक सहायता प्रतिमाह प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता बच्चे की देखभाल के लिए होगी। Uttar Pradesh Governmentद्वारा यह आर्थिक सहायता बच्चे के वयस्क होने तक प्रदान की जाएगी। इसके अलावा सभी बच्चे जिनकी आयु 10 वर्ष या फिर उससे कम है और उनका कोई अभिभावक नहीं है उनको आवासीय Facility Uttar Pradesh Governmentद्वारा Mukhyamantri बाल सेवा Yojana के माध्यम से प्रदान की जाएगी। यह आवासीय Facility उनको राजकीय बाल गृह में आवास प्रदान करके प्रदान की जाएगी। जिससे की उन सभी बच्चों की देखभाल हो सके। Uttar Pradesh में इस Time लगभग 5 राजकीय बाल गृह है जो की मथुरा, लखनऊ, प्रयागराज, आगरा एवं रामपुर में स्थित है।

Mukhyamantri Bal Seva Yojana

अवयस्क लड़कियों की देखभाल एवं उनकी शिक्षा

वह सभी लड़कियां जो अवयस्क है उनको आवास एवं शिक्षा प्रदान करने की जिम्मेदारी भी Uttar Pradesh Governmentद्वारा Mukhyamantri बाल सेवा Yojana के माध्यम से उठाई जाएगी। सभी पात्र लड़कियों को भारत Governmentद्वारा संचालित कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय, प्रदेश Governmentद्वारा संचालित राजकीय बाल ग्रह एवं अटल आवासीय विद्यालय के माध्यम से शिक्षा एवं आवास प्रदान किया जाएगा। इस Time प्रदेश में लगभग 13 बाल गृह संचालित किए जा रहे हैं एवं 17 अटल आवासीय विद्यालय संचालित किए जा रहे हैं। सभी अवयस्क बालिकाओं की देखभाल सुनिश्चित करने के लिए यह Yojana आरंभ की गई है। अब  देश की बालिकाएं Mukhyamantri बाल सेवा Yojana का Benefitsप्राप्त करके अपना जीवन यापन कर पाएंगी।

Mukhyamantri बाल सेवा Yojana का उद्देश्य

Mukhyamantri बाल सेवा Yojana का मुख्य उद्देश्य उन सभी बच्चों की आर्थिक सहायता करना है जो Corona virus संक्रमण के कारण अनाथ हो गए है। इस Yojana के माध्यम से उन सभी बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिससे कि वह अपना भरण-पोषण कर सकें। Mukhyamantri बाल सेवा Yojana की वजह से बच्चों को दूसरों पर निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। क्योंकि Uttar Pradesh Governmentसभी बच्चों की पूरी जिम्मेदारी उठाएगी। प्रदेश Governmentद्वारा प्रतिमाह आर्थिक सहायता से लेकर आवासीय सहायता एवं शादी के लिए आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी। इसके अलावा Uttar Pradesh Governmentइस Yojana के माध्यम सेबच्चों की पढ़ाई की जिम्मेदारी भी उठाएगी।

UP Bal Seva Yojana 2021 के Benefitsएवं विशेषताएं

  • Mukhyamantri Bal Seva Yojana को Uttar Pradesh के Mukhyamantri योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 30 मई 2021 को आरंभ किया गया है।
  • इस Yojana के माध्यम से उन सभी बच्चों की मदद की जाएगी जिनके माता पिता की मृत्यु Coronavirus संक्रमण के कारण हो गई है।
  • इस Yojana के अंतर्गत न केवल बच्चों की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी बल्कि उनको पढ़ाई से लेकर उनके विवाह तक का खर्च Governmentद्वारा वहन किया जाएगा।
  • सभी पात्र बच्चों के पालन पोषण के लिए प्रतिमाह उनको ₹4000 की सहायता राशि प्रदान की जाएगी।
  • यह आर्थिक सहायता बच्चे के वयस्क होने तक प्रदान की जाएगी।
  • इसके अलावा इस Yojana के माध्यम से लड़कियों की शादी के लिए ₹101000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस Yojana के अंतर्गत आने वाले बच्चे की आयु यदि 10 वर्ष से कम है और उसका कोई अभिभावक नहीं है तो इस स्थिति में बच्चे को आवासीय Facility भी प्रदान की जाएगी।
  • यह Facility राजकीय बाल गृह के माध्यम से प्रदान की जाएगी।
  • Mukhyamantri बाल सेवा Yojana के माध्यम से सभी पढ़ाई कर रहे बच्चों को लैपटॉप या टेबलेट भी प्रदान किया जाएगा।
  • इस Yojana का Benefitsउन बच्चों को भी प्रदान किया जाएगा जिन्होंने अपने लीगल गार्डियन या फिर आय अर्जित करने वाले अभिभावक को कोरोना संक्रमण के कारण खो दिया है।
  • सभी अवयस्क लड़कियों को भारत Governmentद्वारा संचालित कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय, प्रदेश Governmentद्वारा संचालित राजकीय बाल गृह एवं अटल आवासीय विद्यालयों के माध्यम से शिक्षा एवं आवास की Facility प्रदान की जाएगी।

आईटीआई प्रक्षिक्षुओ के लिए जारी की गई Eligibility की शर्तें

Corona virus संक्रमण के कारण अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए Mukhyamantri बाल सेवा Yojana का आरंभ किया गया था। इस Yojana के अंतर्गत आईटीआई प्रशिक्षु को भी Benefitsप्रदान करने का निर्णय लिया गया है। जिसके लिए 8 जून 2021 को राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था के प्रधानाचार्य डॉ नरेश कुमार जी के द्वारा Eligibility की शर्त जारी कर दी गई। सभी पात्र लाभार्थियों को लैपटॉप, टेबलेट, विवाह के लिए आर्थिक सहायता एवं प्रतिमाह सहायता राशि प्रदान की जाएगी। वह सभी आईटीआई प्रशिक्षशू जो इस Yojana का Benefitsप्राप्त करना चाहते हैं उन्हें अपने जिले के नोडल आईटीआई में Application करना होगा। आईटीआई प्रशिक्षशू के लिए Eligibility की शर्तें कुछ इस Type है।

  • प्रशिक्षु की आयु 18 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  • आवेदक के माता पिता की मृत्यु Corona virus संक्रमण के कारण हुई होनी चाहिए।
  • यदि आवेदक के माता या पिता में से किसी एक की मृत्यु मार्च 2020 से पहले हुई हो और दूसरे की मृत्यु कोरोना संक्रमण के कारण हुई हो तो इस स्थिति में भी इस Yojana का Benefitsप्राप्त किया जा सकता है।
  • यदि Applicationकर्ता के माता पिता की मृत्यु 1 मार्च 2020 से पहले हुई हो और लीगल अभिभावक की मृत्यु कोरोना संक्रमण के कारण हुई हो तो वह भी इस Yojana का पात्र है।
  • वह बच्चे भी Mukhyamantri बाल सेवा  Yojana का Benefitsप्राप्त कर सकेंगे जिनके माता-पिता में से आय अर्जित करने वाले अभिभावक की मृत्यु Corona virus संक्रमण के कारण हुई हो।
  • इसके अलावा यदि माता-पिता दोनों जीवित है लेकिन आय अर्जित करने वाले अभिभावक की मृत्यु Corona virus संक्रमण के कारण हो गई है और जीवित माता-पिता की वार्षिक आय ₹200000 या फिर उससे कम हो तो इस स्थिति में भी इस Yojana का Benefitsप्रदान किया जाएगा।

Mukhyamantri बाल सेवा Yojana की Eligibility

  • आवेदक Uttar Pradesh का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • वह बच्चे जिन्होंने कोविड-19 के कारण अपने दोनों माता-पिता को खो दिया हो।
  • अपने लीगल गार्डियन को Corona virus संक्रमण के कारण खोने वाले बच्चे इस Yojana के अंतर्गत पात्र हैं।
  • वह बच्चे जिन्होंने अपने आय अर्जित करने वाले अभिभावक को कोविड-19 के कारण खो दिया हो।
  • वह बच्चे जिनके माता-पिता में से कोई एक ही जीवित था और उनकी मृत्यु Corona virus संक्रमण के कारण हो गई हो।
  • बच्चे की आयु 18 वर्ष या फिर 18 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  • एक परिवार के सभी बच्चे (जैविक एवं कानूनी रूप से गोद लिए गए) इस Yojana का Benefitsप्राप्त कर पाएंगे।
  • वर्तमान में जीवित माता या पिता की आए ₹200000 या फिर ₹200000 से कम होनी चाहिए।

UP Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2021 के लिए महत्वपूर्ण Document

  • Uttar Pradesh के निवासी होने का घोषणा पत्र
  • बच्चे का आयु प्रमाण पत्र
  • 2019 से मृत्यु का साक्ष्य
  • बच्चे एवं अभिभावक की नवीनतम फोटो सहित पूर्व Application
  • माता पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र (यदि माता-पिता दोनों की मृत्यु हो जाती है तो उस स्थिति में आय प्रमाण पत्र जमा करना जरूरी नहीं है।)
  • शिक्षण संस्थान में Registration का प्रमाण पत्र

Mukhyamantri बाल सेवा Yojana के अंतर्गत Application करने की प्रक्रिया

यदि आप UP Mukhyamantri बाल सेवा Yojana के अंतर्गत Application करना चाहते हैं तो आपको निम्नलिखित प्रक्रिया को फॉलो करना होगा।

  • यदि आप ग्रामीण इलाका में रहते हैं तो आपको ग्राम विकास/पंचायत Officer या विकासखंड या जिला प्रोबेशन Officer कार्यालय में जाना होगा और यदि आप शहरी इलाका में रहता है कि आपको लेखपाल, तहसील या जिला प्रोबेशन Officer के कार्यालय में जाना होगा।
  • आपको कार्यालय से इस Yojana का Application पत्र प्राप्त करना होगा।
  • अब आपको Application पत्र में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण Information जैसे कि आपका नाम, मोबाइल Number, E-mail आईडी आदि दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सभी महत्वपूर्ण Documentों को अटैच करना होगा।
  • अब आपको यह Application पत्र कार्यालय में जमा करना होगा।
  • इस Type आप UP Mukhyamantri बाल सेवा Yojana के अंतर्गत Application कर पाएंगे।
  • जिला बाल संरक्षण इकाई एवं बाल कल्याण समिति द्वारा पात्र बच्चों को चिन्हित करने के बाद 15 दिन के अंदर आने Application प्रक्रिया पूरी कर दी जाएगी।
  • इस Yojana के अंतर्गत माता पिता की मृत्यु के 2 वर्ष के भीतर Application किया जा सकता है।
  • अप्रूवल प्राप्त होने की तिथि से ही इस Yojana का Benefitsप्रदान किया जाएगा।